द गेम विद मिस्टर एक्‍स - एक कामुक लघुकथा

Af: – ओलरिक, Alka Chohan (læst af), – Lust (oversætter)

Lytteprøve

Beskrivelse

मेरे पास एक टेक्‍स्‍ट मैसेज आया। मुझे उसको बिल्कुल नहीं देखना चाहिए था। मैंने अपना फ़ोन उठाया ताकि उसकी आवाज बंद कर दूं और फिर मीटिंग से बार-बार मेरा ध्‍यान न भटके। लेकिन ज़ाहिर है, मैं वो मैसेज देखने से खुद को रोक नहीं पाई:
"और किसी औरत की योनि इतनी गीली, इतनी कसी हुई और इतनी मदहोश करने वाली नहीं हो सकती, जितनी कि तुम्‍हारी। जितनी शिद्दत से मेरी देह तुम्‍हारी देह को याद करती है, वो बहुत तकलीफ़देह है। पी।"

यह उस तरह का मैसेज नहीं था, जो आपके पास ठीक उस वक्‍त आना चाहिए, जब आप अपने बॉस के साथ एक बहुत ज़रूरी मीटिंग के लिए जा रही हों। आप तब अपनी तंख्‍वाह बढ़ाने की बात कैसे कर सकती हैं, जबकि आप सिर्फ़ मुस्‍कुरा रही हों और उस दीवानगी भरे ऑर्गाज़्म के बारे में सोच रही हों, जो अपने उस पुराने बॉस के साथ महसूस हुआ था, जिसने अभी-अभी दोबारा आपको एक मैसेज भेजा है? यह बहुत अविश्‍वसनीय है कि कैसे सिर्फ़ एक टेक्‍स्‍ट मैसेज आपकी पूरी दुनिया उलट-पलट कर सकता है...

यह लघु कथा स्वीडन की फ़िल्म निर्माता एरिका लस्ट के सहयोग में प्रकाशित की गई है। उनकी मंशा जानदार कहानियों और कामुक साहित्य की चाशनी में जोश, अंतरंगता, वासना और प्यार में रची-बसी दास्तानों के ज़रिए इंसानी फ़ितरत और उसकी विविधता को दिखाने की है। ओलरिक, कामुक कहानियों के लेखक हैं और इन्होंने कई कामुक लघु कहानियां लिखी हैं। इनकी लिखी और कहानियां हैं: डर्टी डॉक्टर, द निम्फ़ एंड द फ़ॉन्स, स्पैनिश समर, जेनी द पाइरेट और द रेड डायमंड।

Yderligere informationer